बेटी बचाओ बेटो बढ़ाओ ,इस अभियान अंतर्गत सुकन्या समृद्धि योजने की सरकार द्वारा स्थापना की गयी। 

सबसे पहले ये जाने की आपकी सिर्फ २ बेतोयो के लिए ही ये योजना है ,आपकी तीसरी बेटी पर आप इस योजने का लाभ नहीं उठा सकते। 

आपकी सुकन्या समृद्धि योजना की क़िस्त महीने के ५ तारीख तक भरे ,हर हर महीने जो ३ हजार का निवेश करेंगे ,वो महीने के ५ तारीख से पहले भरे। 

सुकन्या समृद्धि योजना अन्तर्गत आपके निवेश पर आपको ७.८ फीसदी का ब्याज दिया जाता है,जो हर साल कम्पाउंडिंग होता है। 

अगर आप योजने की क़िस्त ५ तारीख से पहले भरते है ,तो आपको सामन्य ब्याज से ज्यादा का भी ब्याज मिल सकता है। 

आपके बेटी का सुकन्या समृद्धि योजने का खाता आप बैंक में या पोस्ट ऑफिस में कम से कम २५० रुपये में खोल सकते है। 

कम से कम २५० रुपये या ज्यादा से ज्यादा आप सालाना १.५ लाख रुपये तक इस योजने में निवेश कर सकते है। 

आपको सुकन्या समृद्धि योकने के खाते के लिए कुछ दस्तऐवज देने होते है ,जैसे की बेटी का जन्म प्रमाणपत्र ,बच्ची और माता पिता का पहचानपत्र और जहा रहते हो वाहका प्रमाणपत्र। 

आप सुकन्या समृद्धि योजने अंतर्गत आपकी बेटी १८ की होने पर बेटी के पढ़ाई के लिए ५० फीसदी रकम निकल सकते है। 

योजने की मैच्युरिटी अवधि २१ साल की है ,यानि आपकी बेटी २१ साल की होने पर उसकी शादी के लिए आप निकासी कर सकते है। 

आप अगर बेटी की शादी १८ साल की होने पर कर रहे हो ,तो भी आप योजने से आपकी पूरी रकम निकल सकते हो। 

सरकार की पोस्ट ऑफिस की इस योजना में निवेश करे ,और मैच्युरिटी अवधि पर पाए १ करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम।