शेयर मार्केट क्या होता हे ?कैसे करे शेयर मार्केट में इवेंस्ट ?

नमस्ते दोस्तों में आपको आज शेयर मार्किट के बारे पूरी जानकारी देने की कोशिश करूँगा यदि आपको ये पोस्ट पसंद आये तो like और share जरूर करना। तो चलो जानते share market kya hota hai /what is share market in hindi के बारे में ।

शेयर बाजार इन हिंदी 

कई लोगो को लगता हे की शेयर मार्किट एक जुआ हे, gambling  हे । ये बात सही हे लेकिन किन लोगो के लिए जिनको शेयर मार्किट क्या चीज हे या उसके बारे में क्नॉलेज नहीं हे उनके लिए । क्युकी जिनको शेयर मार्किट क्या हे पता ही नहीं हे और यहाँ वह से गलत बाते सुनकर उन्होंने अपना दिमाग उसी तरह सेट कर लिया। की शेयर मार्किट जुआ  हे ।

कुछ घोटाले scam  सुनकर उन्होंने शेयर मार्किट को जुआ कह दिया। आप लोगो को ये बता दू की शेयर मार्किट जुआ नहीं हे। और ना ही scam. share मार्किट एक बिज़नेस हे ।में आप लोगो के ये बता दू दुनिया का सबसे आमिर आदमी शेयर मार्किट से बना हे । जी हा आपने सही सुना , आपने वारेन बुफे [warren buffet] नाम तो सुना होगा , वारेन  बुफेट  एक ऐसे इंसान हे जो शेयर मार्किट में इन्वेस्ट करके एक आमिर इंसान बन चुके हे । उनकी 2020 की कुल नेट वर्थ हे $ 66.7 बिलियन।

share market kya hota hai-शेयर मार्केट क्या होता हे ?

share market kya hota hai

शेयर मार्किट का क्नॉलेज न होने की वजह से बहुत लोगो का नुकसान हो गया हे क्यूंकि लोग बिना क्नॉलेज के शेयर मार्किट में इन्वेस्ट करते हे।लोग या तो किसी किसी का सुनकर इन्वेस्ट करते हे टिप लेकर।  या तो न्यूज़ से देखकर या तो किसी अफवा को सुनकर लोग इन्वेस्ट करने लग जाते हे । में  बोलता हु की पैसे आपका हे तो आप किसी की क्यू टिप लेते हे। या किसी का सुनकर क्यू इन्वेस्ट करते हे ।

शेयर मार्किट में इन्वेस्ट कब करे ?

शेयर मार्किट में इन्वेस्ट करने का भी एक टाइम रहता हे । आपने PE [ price erning ratio] तो सुना होगा। नहीं सुना तो चलिए में आपको बताता हूँ. PE का मतलब होता हे की समज लिजिये , की किसी कंपनी का PE 10 हे यानि की आप 1 रु के लिए 10 रु देने पड़ते हे । इसका मतलब में आपको समजता हूँ।

कंपनी का PE  10 चालू हे तो आपको उसमे इन्वेस्ट करने के लिए 1 रु के लिए 10 रु देने हे। और कंपनी का PE  10 तभ ही रहता हे जब उसका प्राइज कम चल रहा होता हे। और अगर कंपनी का PE 30 चालू हे इसका मतलब कंपनी की प्राइज हाई चालू हे । मतलब  कंपनी का शेयर ओवर BOUGHT हे ।

इसका मतलब ये हुआ की अगर कंपनी का PE रेश्यो 10 चल रहा हे तो आप उसमे इन्वेस्ट कर सकते हे। और 30 चल रहा हे तो आप उसमे इन्वेस्ट ना करे । लेकिन आपको कंपनी का  सिर्फ PE रेश्यो देख्नर इन्वेस्ट नहीं करना आपको उसके साथ में कंपनी का प्रॉफिट और लोस्स क्या हे ,कैसा हे। आपको कंपनी का पूरा फंडामेंटल देखना पड़ता हे , कंपनी की पूरी BALANCE  SHIT  भी देखनी पड़ती हे। तभी आप उसमे इन्वेस्ट करे।

कंपनी का फंडामेंटल [Fundamental analysis ]

कंपनी का फंडामेंटल का मतलब होता हे की, कंपनी की हिस्ट्री, कंपनी  का पूरा लेखा जोख । इसका मतलब कंपनी की मार्किट प्राइज क्या हे कंपनी की लायबिलिटीज़ [ liabilities] क्या हे , कंपनी  के पास कितनी मालमत्ता [ assets] हे , कंपनी  का प्रॉफिट और लॉस कितना हे कंपनी फायदे में या घाटे में चल रही हे. कपनी के पास कितना कॅश हे कंपनी पर कर्ज कितना हे , कंपनी हर साल ग्रोथ कर रही हे की नहीं।  कंपनी का  ये सब देखना मतलब fundamental analysis होता हे।

शेयर मार्किट अप डाउन क्यूँ होता हे

शेयर मार्किट इन दो ही भरोसे चलती हे एक हे Demand और एक हे supply।  शेयर मार्किट इन्ही दो चीजों के भरोसे चलती हे , अगर किसी कंपनी का प्रोडक्ट की डिमांड बढ़ जाती हे। तो उसके कंपनी का भाव बढ़ जाता हे। यानि उसका शेयर प्राइज बढ़ जाता हे । और अगर किसी प्रोडक्ट का सप्लाई ज्यादा हे, और डिमांड कम हे तो ,उसका शेयरप्राइज कम होने लगता हे.

यानि उसका शेयर का भाव निचे गिर जाता हे। तो इसका मतलब हे की जैसे कंपनी के प्रोडक्ट का डिमांड बढ़ता हे। तो उसकी शेयर प्राइस भी बढाती हे। और अगर कंपनी की प्रोडक्ट का सप्लाई ज्यादा हे और डिमांड कम तो उसका शेयर प्राइज कम हो जाता हे यानि गिरता हे ।

शेयर मार्किट में इन्वेस्ट कैसे करे 

 शेयर  मार्किट किसीभी कंपनी का शेयर खरीदने या बेचने के लिए हमारे इंडिया में 2 स्टॉक एक्सचेंज हे। एक NSE और एक BSE .इनके बारे में आपको पता नहीं हे तो हमारी पिछली पोस्ट nse aur bse kya hota he ? इसे आप पढ़ सकते हे। इसमें में इसके बारे में सविस्तार से बताया हे।

तो चलिए दोस्तों आपको बता ता हूँ की शेयर मार्किट में इन्वेस्ट यानि पैसे कैसे लगते हे । सबसे पहले तो आपको Demat खाता  खोलना पड़ता हे। जैसे हम बैंक में अपना अकाउंट खुलवाते हे। वैसे ही हमे Demat अकाउंट खुलवाना पड़ता हे. ये अकाउंट आप बैंक में भी खोल सकते हे या तो फिर किसी ब्रोकर के पास भी खोल सकते हे ।

लेकिन आप ब्रोकर के पास अकाउंट ओपन करते हे तो आप को सर्विस भी अच्छी मिलती हे। और आपको अच्छा guidance भी मिलता हे । Demat अकाउंट ओपन करने के लिए आप का बैंक में आकउंट होना चाहिए। और आप के पास अपने कुछ डॉक्यूमेंट भी होने जरुरी हे।

 Demat अकाउंट ओपन करने के लिए लगने वाले डॉक्यूमेंट

  1. पैन कार्ड
  2. आधार (केवल एक ऑनलाइन खाता खोलने के लिए)
  3. आपके बैंक खाते को लिंक करने के लिए रद्द किया गया चेक/बैंक स्टेटमेंट
  4. एक छवि
  5. आय प्रमाण (फॉर्म -16 / आईटी पावती प्रति / 6 महीने का बैंक विवरण / नवीनतम वेतन पर्ची)

अगर आपको अकाउंट ओपन करना हे तो में आपको इंडिया के नंबर 1 टॉप ब्रोकर zerodha को suggest करूँगा क्यूंकि ये इंडिया की नंबर 1 ब्रोकर कंपनी हे ।

मुझे यकीं हे की share market kya hota hai .के बारे में आप को काफी कुछ जानकारी मिल गयी होगी। और आपको हमारी पोस्ट काफी मदतगार साबित  हुयी होगी , और  यदि आपको हमारी पोस्ट पसंद आयी हो तो कृपया शेयर जरूर कीजिये गए , धन्यवाद .

4 thoughts on “शेयर मार्केट क्या होता हे ?कैसे करे शेयर मार्केट में इवेंस्ट ?”

Leave a Comment